Flash Stories
recent

Spirituality

[Spirituality][txmag]
0

गीता दर्शन - 28

संदर्भ(context) और पृष्ठभूमि( background) का सम्यक ज्ञान सम्बंधित सिद्धांतों एवं नियमों को एक natural outcome बना देता है और फिर गहराई...
Read More
0

गीता दर्शन- 27

श्रीमद्भागवत गीता को लेकर दुनिया में दो तरह की विचारधाराएं  प्रचलित है और suprisingly दोनों एक दूसरे से बिल्कुल विपरीत। अधिकांश लोगों ...
Read More
0

गीता दर्शन- 26

गीता के मौन प्रश्न- 2 Indian psyche का pattern बड़ा ही अद्भुत है। सनातन धर्म के दो प्रमुख वाहकों - 'रामायण' और 'महाभारत&...
Read More
0

गीता दर्शन-25

गीता के मौन प्रश्न -1 भारत भूमि की धर्म-चेतना इतनी प्रखर और प्रबल है कि जनमानस में श्रीमद्भागवत गीता के बारे में बहुत सारे well-esta...
Read More
0

गीता दर्शन-24

गीता में अध्यात्म-2 सनातन धर्म के दर्शन में "अध्यात्म" शब्द का उपयोग बहुत ही व्यापक रूप में किया जाता है। यह रास्ता भी है,...
Read More
0

गीता दर्शन- 23

गीता में अध्यात्म- 1 अध्यात्म का प्रचलित अर्थ है - ईश्वर, धर्म, दर्शन, मोक्ष आदि आदर्शों के प्रति जीवन और विचारों को समर्पित कर देना...
Read More
0

गीता दर्शन - 22

गीता में विरोधाभास - 4 आदि-अनंत की परिसीमाओं से परे तथा सर्वदा विद्यमान रहने वाले सनातन धर्म की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इसमें सभी...
Read More
0

गीता दर्शन -21

गीता में विरोधाभास- 3 ऐतरेय ब्राह्मण का उदघोष- "चरैवेति, चरैवेति" ही जीवन की मूल प्राणशक्ति है। जीवन चलते जाने का नाम है; ...
Read More
0

गीता दर्शन -20

गीता में विरोधाभास- 2 सनातन धर्म की सबसे बड़ी विडंबना यह है कि उसके सबसे प्रमुख आध्यात्मिक ग्रंथ की पृष्ठभूमि एक ही परिवार मे जायद...
Read More
0

गीता दर्शन -19

 गीता मे विरोधाभास-1 एक तटस्थ पाठक द्वारा श्रीमद्भागवत गीता के प्रथम से अंतिम श्लोक तक के अध्ययन के बाद कुछ निष्कर्ष जेहन में आते ह...
Read More

Parenting

[][txmag]

Gallery

Powered by Jagrit Mind
Powered by Blogger.